मुंबई: भारत में एक्सप्रेस लॉजिस्टिक सर्विस और डिस्ट्रिब्यूशन में मार्केट लीडर टीसीआईएक्सप्रेस (NSE: TCIEXP & BSE: 540212) ने वित्त वर्षय 2018-19 के क्यू2 और एच1 के वित्तीय नतीजों की घोषणा की है। कंपनी के शुद्ध क्यू-2 राजस्व में 21.59% की मजबूत वृद्धि हुई है, जबकि ईबीआईटीडीए पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 39.57% की वृद्धि के साथ 28.11 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है।

राजस्व में वृद्धि ने तिमाही में कंपनी के पीएटी को पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 24.60% की वृद्धि के साथ आगे बढ़ाया। इस निरंतर विकास की वजह से कंपनी ने अंतरिम लाभांश @60% (प्रति शेयर 2 रुपये के अंकित मूल्य पर प्रति इक्विटी शेयर 1.20 रुपए) की सिफारिश की है। क्यू2 में प्रभावी राजस्व और विकास के आंकड़े कंपनी के मजबूत बुनियादी सिद्धांतों के प्रतिबिंब हैं और ग्राहकों की खुशी पर ध्यान केंद्रित करते हैं।

टीसीआईएक्सप्रेस के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री चंदर अग्रवाल ने कहा, “टीसीआईएक्सप्रेस में एसएमई की ओर से बिजनेस में स्थिर हिस्सेदारी आने वाले वर्षों में वृद्धि में अहम भूमिका निभाने वाली है। दूसरी ओर संगठित के साथ-साथ असंगठित क्षेत्र के साथ प्रतिस्पर्धा भी है। ऐसे में हमारे ग्राहकों का भरोसा हासिल करना ही हमें अलग खड़ा करता है। विरोधियों के मुकाबले यह हमारी स्थिति को बेहतर बनाता है। चूंकि टायर-2 शहरों के हमारे कस्टमर बेस में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज हुई है, एक्सप्रेस डिलीवरी सर्विसेस में भी तेजी दिखाई दी है। इसके साथ-साथ जीएसटी को लागू करवाने और बाजार में बढ़ती स्वीकार्यता की वजह से हम इन आंकड़ों को छूने में कामयाब हुए हैं। हम आश्वस्त करते हैं कि कारोबारों की विस्तृत शृंखला को समयबद्ध लॉजिस्टिक सर्विस दे सके और वित्त वर्ष समाप्त होने तक हमारी प्रभावी सेवा को देश के हर कोने में हमारे हब और स्पोक नेटवर्क के जरिये पहुंचाएंगे।”