Blog

अ.भा.अग्रवाल समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष का अश्लील वीडियो वायरल| 26 Oct

अ.भा.अग्रवाल समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष का अश्लील वीडियो वायरल|

मुंबई। सोशल मीडिया पर इस समय अ.भा.अग्रवाल समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोपाल शरण गर्ग का एक अश्लील वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह एक युवती के साथ आपत्तिजनक रूप में दिख रहे हैं। इस वीडियो के बाहर आने के बाद गोपाल शरण गर्ग ने हरियाणा सरकार द्वारा नियुक्त मंडी अध्यक्ष पद से तो
इस्तीफा दे दिया है , लेकिन अभी तक वो अ.भा.अग्रवाल समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर बने हुए हैं। इस विषय को लेकर अग्रवाल समाज में कई तरह की
प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इस बाबत हमने समाज के कुछ अग्रणी लोगों से बात की।  आप भी जाने क्या कहते हैं समाजबंधु

मनमोहन गुप्ता (अध्यक्ष, गांधी विचार मंच)-  समाज के सर्वोच्च पद पर
पहुंच कर व्यक्ति को पेड़ की तरह झुकना चाहिए, नदी की तरह देना चाहिए और
गांधी जी की तरह सत्य का अनुसरण करना चाहिए। आज से 500 साल पहले महाराजा
अग्रसेन जी ने समाज के सामने एक आदर्श प्रस्तुत किया। इसीलिए हम आज भी
उन्हें पूजते हैं। मगर आज गोपाल शरण गर्ग जी ने समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष
पर आसीन होकर सामाजिक और प्रशासनिक स्तर पर मर्यादा को कलंकित किया है।
जिस प्रकार की कामवासना का उनका वीडिया वायरल हुआ है, उससे हमारा पूरा
समाज शर्मसार हुआ है। मेरे विचार से गोपाल गर्ग जी को व्यक्ति, समाज और
राष्ट्र के हित में अपने पद से खुद ही तत्काल हट जाना चाहिए।

कान बिहारी अग्रवाल (ट्रस्टी, अग्रबन्धु )- यह अग्रवाल समाज पर एक काला धब्बा है । नैतिकता यही बनती है कि वे पहले अपने पद से इस्तीफा दे दें ,फिर बाद में अपनी सफाई पेश करें। समाज और संबंधित कार्यकारिणी को भी इस विषय पर जल्द निर्णय लेना चाहिए।  समाज के किसी ऊंचे पद पर बैठा व्यक्ति इस तरह की गंदी हरकत करे तो यह काफी निंदनीय है।

 सुरेंद्र गुप्ता (चेयरमैन -अखिल भारतीय अग्रवाल समाज )- इस वीडियो के
वायरल होने के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष अपने पद से इस्तीफा दें या या नहीं
इसका निर्णय उन्हें स्वयं करना चाहिए। मैं इस बारे में कोई अपनी राय देना
नहीं चाहता।
डालचंद गुप्ता (अध्यक्ष सामूहिक विवाह संस्था)- कोई भी व्यक्ति जो इस
तरह का अमर्यादित व्यवहार करता है, उसे स्वयं ही तत्काल अपने पद से
इस्तीफा दे देना चाहिए। साथी ही कार्यकारिणी को भी इस पर एक्शन लेना
चाहिए। इस तरह के मामलों से लोग अपनी बहू- बेटियों को समाज के कार्यक्रम में भेजने से परहेज करेंगे।

हनुमान प्रसाद अग्रवाल (अध्यक्ष, रायपुर) – वायरल रहे इस वीडियो की
सच्चाई जानने के बाद ही मैं कुछ बोल सकूंगा।
शीतल अग्रवाल (अध्यक्ष, मुंबई) ने इस मामले पर कुछ भी बोलने से इनकार
करते हुए फोन काट दिया।

राजेंद्र अग्रवाल (अध्यक्ष, अग्रोहा विकास ट्रस्ट) – मेरे ख्याल से यह
उन्हें राजनीतिक रूप से बदनाम करने की साजिश है। लेकिन इस पूरे मामले की
जांच होने तक समाज और कार्यकारिणी की तरफ से उनसे अस्थाई रूप से इस्तीफा
दिलाने की कार्रवाई हो रही है।

गोपाल शरण गर्ग (अध्यक्ष, अखिल भारतीय अग्रवाल समाज)- यह वीडियो मुझे
बदनाम करने की एक बड़ी साजिश है। 25 स सालों से एक आदमी से मेरा मुकदमा
चल रहा है और कुछ संस्थाओं के लोग भी हैं, जो हमारी उपलब्धियों से जलते
हैं। ये उन्हीं लोगों की कारगुजारी है। मैंने हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले
के नरलोन पुलिस थाने में इस मामले की शिकायत कर दी है। जांच के बाद
वास्तविकता सामने आ जाएगी। मैं अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा
नहीं दूंगा। क्योंकि ये कोई लाभ का पद नहीं है। हरियाणा सरकार द्वारा
नियुक्त मंडी अध्यक्ष पद से मैंने रिजाइन कर दिया है।

 

 

 

योगेश अग्रवाल (राष्ट्रीय युवा अध्यक्ष ) – समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने
जो गंदा काम किया है, उससे उन्हें तुरंत अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए।
कल हमारी कार्यकारिणी की मीटिंग है। हम उसमें उनके इस्तीफा के लिए
प्रस्ताव लाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *